लॉकडाउन के बाद जा रहे हैं घूमने तो जरूर लें Travel Insurance, जानें इसके फायदे 1

लॉकडाउन के बाद जा रहे हैं घूमने तो जरूर लें Travel Insurance, जानें इसके फायदे

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान लगाया गया लॉकडाउन अधिकाशं राज्यों ने हटा लिया. इसे देखते हुए बहुत से लोग कहीं छुट्टियां मानने का प्लान बनाने लगे हैं. अगर आप भी कहीं घूमने जाने के बारे में सोच रहे हैं तो जान लें कि कोरोना काल में ट्रेवलिंग के दौरान कई चीजों का ध्यान रखना जैसे कि सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर, कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट, मास्क आदि. लेकिन इन चीजों के लिए ट्रैवल इंश्योरेंस भी जरूरी है. अधिकांश लोग सफर पर निकलने से पहले ट्रेवल इंश्योरेंस के बारे में नहीं सोचते लेकिन यह बहुत काम आता है. आज हम आपको इसके फायदे बताने जा रहे हैं.

मेडिकल खर्च
विदेश में सफर के दौरान अगर व्यक्ति को किसी बीमारी या चोट का सामना करना पड़ जाए तो ऐसी स्थिति में ट्रैवल इंश्योरेंस पॉलिसी आपकी मदद करेगी. ट्रैवल इंश्योरेंस में हॉस्पिटल चार्ज, एंबुलेंस सर्विस और फिजिशियन सर्विस का चार्ज भी शामिल…

View More लॉकडाउन के बाद जा रहे हैं घूमने तो जरूर लें Travel Insurance, जानें इसके फायदे
Health insurance खरीदते समय इस बारे में जरूर करें पूछताछ, ताकि आगे चलकर न हों परेशानी 2

Health insurance खरीदते समय इस बारे में जरूर करें पूछताछ, ताकि आगे चलकर न हों परेशानी

कोरोना महामारी की वजह से लोग हेल्थ इंश्योरेंस को लेकर काफी गंभीर हो गए हैं. हर कोई यही चाहता है कि उसे और उसके परिवार को मुश्किल वक्त में सही इलाज और वित्तिय सुरक्षा मिल सके. 

हेल्थ इंश्योरेंस खरीदते वक्त लोग कई बातों पर ध्यान देते हैं. लेकिन ऐसा देखा गया है कि लोग अस्पतालों के नेटवर्क के बारे में अक्सर नहीं पूछते. हालांकि ये अनदेखी आगे जाकर काफी मुश्किल खड़ी कर सकती है. आप अगर हेल्थ इंश्योरेंस लेने की सोच रहे हैं तो ध्यान रखें कि जिस कंपनी से आप हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ले रहे हैं उसका अस्पतालों का नेटवर्क (Network Hospital) सही हो.

उसी हेल्थ इंश्योरेंस को चुनना चाहिए जिसका आपके क्षेत्र में अधिकतम अस्पताल नेटवर्क हो. दरअसल नेटवर्क अस्पताल अस्पतालों का एक ग्रप होता है जो आपको अपनी वर्तमान हेल्थ प्लान को भुनाने की परमिशन देता है.

अगर किसी इंश्योरेंस…

View More Health insurance खरीदते समय इस बारे में जरूर करें पूछताछ, ताकि आगे चलकर न हों परेशानी
भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष में 8.4 से 10.1 फीसदी तक वृद्धि कर सकती है हासिल: NCAER 3

भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष में 8.4 से 10.1 फीसदी तक वृद्धि कर सकती है हासिल: NCAER

नई दिल्ली: आर्थिक थिंक टैंक एनसीएईआर को उम्मीद है कि भारतीय अर्थव्यवस्था मौजूदा वित्तीय वर्ष में 8.4-10.1 प्रतिशत की वृद्धि हासिल कर सकती है. पिछले वित्तीय वर्ष में अर्थव्यवस्था में 7.3 प्रतिशत का संकुचन हुआ था.

नेशनल काउंसिल ऑफ अप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च (एनसीएईआर) ने अर्थव्यवस्था की तिमाही समीक्षा जारी करते हुए आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए मजबूत वित्तीय समर्थन पर जोर दिया. एनसीएईआर ने एक बयान में कहा, ‘हमारा आकलन है कि वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद में 11.5 प्रतिशत की वृद्धि होगी जबकि पूरे वित्तीय वर्ष में 8.4-10.1 प्रतिशत की वृद्धि होगी.’

आधार प्रभाव की बड़ी भूमिका

इसमें कहा गया, ‘हालांकि, उच्च वृद्धि में आधार प्रभाव की बड़ी भूमिका है. वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही इससे पिछले साल 2020-21 की पहली तिमाही में आई बड़ी गिरावट के ऊपर हासिल होगी. 2021-22 के अंत पर, जीडीपी…

View More भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष में 8.4 से 10.1 फीसदी तक वृद्धि कर सकती है हासिल: NCAER