Don't Trust Anyone You Meet Online: ऑनलाइन मुलाकात से मिले व्यक्ति पर अंधविश्वास ना पड़ जाए भारी 1

Don’t Trust Anyone You Meet Online: ऑनलाइन मुलाकात से मिले व्यक्ति पर अंधविश्वास ना पड़ जाए भारी

Don't Trust Anyone You Meet Online: ऑनलाइन मुलाकात से मिले व्यक्ति पर अंधविश्वास ना पड़ जाए भारी 2

नई दिल्ली।

Don’t Trust Anyone You Meet Online: वर्तमान में टेक्नोलॉजी हर क्षेत्र में अपने पांव पसार चुकी है।

अब हमारे मुख्यतः सभी काम एक क्लिक की मदद से ऑनलाइन घर बैठे ही हो जाते हैं।

यहां तक की ऑनलाइन बातचीत की हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुकी है।

अब ऐसी बहुत ही कम अवसर आते हैं जब लोग एक दूसरे के घर जाकर या चौपालों पर बैठकर बातचीत करते हैं।

वर्तमान में रिश्ते भी ऑनलाइन ही तय होने लग गए हैं।

और यह ऑनलाइन चैटिंग किसी उम्र की मोहताज नहीं है।

बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी अपने दोस्तों रिश्तेदारों से घर बैठे ही ऑनलाइन चैटिंग अथवा वीडियो कॉल कर लेते हैं।

लेकिन साथ ही साथ आपने अक्सर ऐसी घटनाएं भी जरूर सुनी होंगी, जिसमें ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर मिले युवक या युवतियां कई बार धोखा भी खा जाते हैं।

क्योंकि इस आभासी दुनिया में कई बार जो दिखाई देता है असल में होता नहीं है।

इसलिए आसानी से किसी पर भी भरोसा करना गलत है।

तो आइए जानते हैं कि किसी भी तरह की गलतफहमी अथवा धोखाधड़ी से बचने के लिए ऑनलाइन मेरे लोगों की पहचान इन तरीकों द्वारा की जा सकती है:

1. अजनबी होने का भय
ऑनलाइन मिले लोग हमारी नजर से दूर होते हैं जिन्हें हम व्यक्तिगत रुप से नहीं जानते हैं।

जब हम उनसे बातचीत करते हैं या अपने बारे में बताते हैं, तो जरूरी नहीं कि वही सच्चाई हो।

क्योंकि चैटिंग के दौरान हम किसी इंसान के बारे में उतना ही जान पाते हैं जितना वह हमें बताना चाहता है।

आपसे ऑनलाइन बातचीत के अलावा वास्तविकता में वह क्या है अथवा क्या करता है, उससे आप अनजान हो सकते हैं।

 

 

 

confused.jpg

यह भी पढ़ें:

2. जांच है जरूरी
ऑनलाइन प्लेटफॉर्म द्वारा चैटिंग के दौरान कोई व्यक्ति आपसे क्या कहता है, इसका ध्यान जरूर रखें।

उदाहरण के लिए अगर कभी आपको एक ही सवाल के दो जबाव मिलें, तो इस पर जरूर गौर करें।

उस व्यक्ति पर तब तक विश्वास ना करें जब तक आप उसकी सभी बातों से संतुष्ट ना हो जाएं।

chatting.jpg

3. ऑनलाइन डेटिंग का जाल
जमाने में बदलाव के साथ आजकल बहुत से लोग अपने जीवनसाथी की तलाश भी ऑनलाइन करते हैं।

इसके लिए कई मेट्रीमोनियल साइट भी हैं।

परंतु ध्यान रखें कि वहां भी ऐसे कई लोग हैं जो इसकी आड़ में लड़कियों को अपना शिकार बनाकर उनको फंसा लेते हैं और शोषण करते हैं।

ऐसे लोग शुरुआत में चिकनी-चुपड़ी बातें करके लड़कियों को प्रभावित करते हैं और फिर उन्हें अपने जाल में फंसाते हैं।

इसलिए बहुत सावधानी रखते हुए पूरी जान पहचान के बाद ही दोस्ती या रिश्ता आगे बढ़ाना चाहिए, अन्यथा आप मुश्किल में पड़ सकते हैं।

 

trap.jpg

4. ऑनलाइन न करें फैसला
इस आभासी दुनिया में लोग बड़ी ही सावधानी से अपना चरित्र निर्माण करते हैं।

आज के जमाने में हर कोई एक दूसरे को इंप्रेस करने में लगा हुआ है।

इसलिए आसानी से किसी पर भी भरोसा करना ठीक नहीं है क्योंकि यह ऑनलाइन की दुनिया बहुत ही सावधानीपूर्वक बनायी जाती है।

इसलिए जब तक आप किसी इंसान को व्यक्तिगत रूप से ठीक से ना जान जाएं,तब तक बातचीत के दौरान उस शख्स को उसके ऑनलाइन पर्सनेलिटी के अनुसार जज ना करें।

decisions.png

5. प्यार में पड़ जाना
जाहिर सी बात है कि अगर हमें किसी इंसान की बातें और उसकी पसंद-नापसंद अच्छी लगने लगती है, तो हो सकता है कि हम उसके प्यार में पड़ जाएं।

और आजकल तो ऑनलाइन प्यार के चक्कर में पड़ना कोई चौंकाने वाली बात नहीं रह गई है।

लेकिन बेहतर होगा कि इसे सिर्फ बातचीत तक ही सीमित रखें।

क्योंकि ऑनलाइन मिले किसी व्यक्ति से शादी के बारे में सोचने में थोड़ा खतरा हो सकता है और वह भी तब जब आप उससे आज तक मिले ही नहीं हैं।

और अगर आपको उस इंसान से प्यार हो जाए या शादी करनी हो, तो बात तभी आगे बढ़ाएं जब आप पूरी तरह जांच पड़ताल कर लें।

love.jpg