Hindi Diwas 2021 : 'मां हिंदी में प्याज काट दिया करती थीं', दिल छू रही अमिताभ के पोस्ट की पंक्तियां 1

Hindi Diwas 2021 : ‘मां हिंदी में प्याज काट दिया करती थीं’, दिल छू रही अमिताभ के पोस्ट की पंक्तियां

Hindi Diwas 2021 : 'मां हिंदी में प्याज काट दिया करती थीं', दिल छू रही अमिताभ के पोस्ट की पंक्तियां 2

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने आज 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस (Hindi Diwas 2021 ) के मौके पर शानदार पोस्ट किया है।

हिन्दी भाषा पर अपनी अच्छी पकड़ रखने वाले अमिताभ के दिल को इस पोस्ट में लिखी गई बातें इस कदर छू गईं कि वे इसे शेयर करने से खुद को रोक न सके।

अमिताभ हिन्दी भाषा के महान कवि और लेखक हरिवंश राय बच्चन के घर जन्मे और यही वजह है कि उनके लहजे में पिता का यह गुण भी खूब दिखता है।

चाहे रियल लाइफ हो या पर्दे पर उनका रोल या फिर ‘केबीसी’ में दर्शकों के मनोरंजन की बात, अमिताभ अपने बोलने के खास अंदाज से सबको अपने करीब ले आते हैं।

अमिताभ ने इस पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा है, ‘हिंदी दिवस की अनेक शुभकामनाएं।

हमारे एक प्रिय मित्र ने ये एक निबंध, जिसे उनके एक मित्र ने उन्हें भेजा था, मुझे भेजा और मुझे लगा कि ये बहुत ही अद्भुत उल्लेख है, आपको भेज दूं।

‘ इस पोस्ट में कुछ ऐसी लाइनें लिखी हैं, जो पढ़ते ही आपके चेहरे पर मुस्कान बिखेर देने का दम रखती हैं।

पोस्ट की कुछ पंक्तियां ऐसी हैं, ‘हमारे घर में हिंदी में जीवन जीया जाता है।

मां हिंदी में प्याज काट दिया करती थीं।

छोटी सी बिलिया में घी में तैरती मिर्चें भी हिंदी में ही तली जाती थीं।

जहां हिन्दी में प से पानी बहता था मछलियां भी हिन्दी में ही तैरती थीं।

हिन्दी में सूरत उगता था और हिंदी में ही आसानी से ढल जाता था।

ये वो दिन थे जब आम बोलचाल की हिन्दी में किंकर्तव्यविमूढ़ बोला जाता था।

मैंने अपना तमाम जीवन हिन्दी में जीया है और बचा हुआ भी हिन्दी में ही जीयूंगी।

दीवार पर जो चिड़िया मैंने हिन्दी में बनाई थी एक दिन वो उड़ जाएगी पर।

मेरी हिन्दी एच से नहीं ह से रहेगी और अ से अनंत तक।

‘ अमिताभ केवल अच्छी हिन्दी बोलते ही नहीं बल्कि शानदार कविता और शायरी भी लिखा करते हैं।

अमिताभ अक्सर ऐसे पोस्ट फैन्स से शेयर भी किया करते हैं।

Share few words about this News