टूरिज्म इंडस्ट्री में सरकार इन कदमों से फूंक रही जान, कोविड वैक्सीनेशन का भी रहेगा अहम रोल 1

टूरिज्म इंडस्ट्री में सरकार इन कदमों से फूंक रही जान, कोविड वैक्सीनेशन का भी रहेगा अहम रोल

टूरिज्म इंडस्ट्री में सरकार इन कदमों से फूंक रही जान, कोविड वैक्सीनेशन का भी रहेगा अहम रोल 2

नई दिल्लीकोविड महामारी से जूझ रही () को दोबारा से खड़ा करने के लिए केंद्र सरकार इंडस्ट्री के तमाम हितधारकों से बात कर रही है।

साथ ही उसका जोर रिस्पॉन्सिबल और सस्टेनेबल (जिम्मेदार व टिकाऊ) टूरिज्म पर भी है।

यह बात सोमवार को विश्व पर्यटन दिवस के मौके पर पर्यटन मंत्रालय द्वारा ‘’ विषय पर आयोजित एक सम्मेलन में निकल कर सामने आई।

केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी () ने समावेशी विकास में पयर्टन को अहम बताते हुए कहा कि इससे देश की इकनॉमी को मजबूती मिलेगी।

उन्होंने कोविड के बाद इंडस्ट्री को फिर से पटरी पर लौटाने के लिए टीकाकरण को अहम बताया।

उन्होंने पर्यटन क्षेत्र के सभी हितधारकों से महामारी के मद्देनजर स्वास्थ्य और सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर खास ध्यान देने के लिए कहा।

उनका कहना था कि मंत्रालय कोविड महामारी से प्रभावित हुए इस क्षेत्र की स्थिति में सुधार के लिए विभिन्न हितधारकों से बात कर रहा है।

केंद्र ने इस क्षेत्र के लिए विभिन्न पैकेज और छूट की भी घोषणा की है।

वहीं उन्होंने विदेशी पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से कोविड के बाद पहले पांच लाख विदेशी पर्यटकों के लिए मुफ्त वीजा को भी एक अहम पहल बताया।

पर्यटन को इकनॉमी के विकास का इंजन: ओम बिरलाइस मौके पर लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने पर्यटन को इकनॉमी के विकास का इंजन करार देते हुए कहा कि भारत में पर्यटन के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं, क्योंकि यहां समुद्र तटों से लेकर रेगिस्तान तक तरह-तरह के पर्यटन स्थल मौजूद हैं।

घरेलू व अंतरराष्ट्रीय पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने आईटी जैसे माध्यमों के व्यापक इस्तेमाल पर जोर दिया।

वहीं दुनियाभर में ग्रामीण पर्यटन के बढ़ते क्रेज को ध्यान में रखते हुए देश में भी ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में ठाेस व महत्वाकांक्षी प्रयासों पर बल देने की बात कही।

उनका मानना था कि इससे ग्रामीण हस्तशिल्प, जीवन व इकनॉमी को भी आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।

चलाई जाएगी जिम्मेदार पर्यटन मुहिम इस मौके पर मंत्रालय, यूनाइटेड नेशंस एनवायरमेंट प्रोग्राम व गैर सरकारी संगठन रिस्पॉन्सिबल सोसाइटी ऑफ इंडिया ने एक करार भी किया, जो देश में जिम्मेदार पर्यटन मुहिम को चलाएगा।

इस मुहिम में पर्यटन क्षेत्र के तमाम हितधारकों को जिम्मेदार व जागरूक बनाने पर जोर दिया जाएगा।