मास्टरबेशन के बारे में आपको जरूर जानने चाहिए ये 5 फैक्ट 1

मास्टरबेशन के बारे में आपको जरूर जानने चाहिए ये 5 फैक्ट

मास्टरबेशन के बारे में आपको जरूर जानने चाहिए ये 5 फैक्ट 2

हस्तमैथुन () एक ऐसा शब्द है जो हमारे ‘सभ्य’ समाज में वर्जित है।

हस्तमैथुन करना चाहिए या नहीं, यह बहस जैविक दृष्टिकोण से बहुत आगे निकल चुकी है और नैतिकता के दरबार में उतर चुकी है।

हालांकि अगर कोई हस्तमैथुन करना चाहता है या नहीं, तो यह पूरी तरह से एक निजी मामला है, लेकिन हस्तमैथुन के कई फायदे हैं।

हालांकि, इस विषय को अक्सर मिथकों में ही उलझा दिया जाता है क्योंकि यह एक ऐसा विषय है जिसे कोठरी के पीछे रखा जाता है और लोग इसके बारे में खुलकर चर्चा नहीं करते हैं।

ऐसे में आज हम आपको हस्थमैथुन के कुछ तथ्यों के बारे में बताएंगे, जो आपके लिए जानने बहुत ही जरूरी हैं।

वैसे तो आज के समय में ज्यादातर सभी लोग मास्टरबेशन करते ही हैं।

पुरुष हो या महिला, हर कोई मास्टरबेशन कर सकता है और लोग करते भी हैं।

चाहे हमारा समाज इसे स्वीकार करे या न करे।

आइए, जानते हैं हस्थमैथुन के तथ्यों के बारे में… हस्तमैथुन करने के फायदे हस्तमैथुन एक प्राकृतिक, सुरक्षित और स्वस्थ गतिविधि है।

यह वास्तव में आपके शरीर का पता लगाने, आनंद महसूस करने और निर्मित यौन तनाव को दूर करने का एक तरीका है।

इसका लाभ केवल आपके यौन स्वास्थ्य तक ही सीमित नहीं है, बल्कि नियमित रूप से हस्तमैथुन करने से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ भी हो सकते हैं।

शोध से पता चलता है कि नियमित हस्तमैथुन निम्नलिखित में मदद कर सकता है:

  • तनाव कम करना
  • तनाव का निवारण
  • नींद की गुणवत्ता बढ़ाएं
  • एकाग्रता स्तर बढ़ाए
  • मूड अच्छा करना
  • मासिक धर्म की ऐंठन से राहत
  • यौन जीवन में सुधार

यदि आप इसके आदी हो जाते हैं तो ही हस्तमैथुन करना अस्वस्थ है।

यह एक तरह की मजेदार गतिविधि है जो आपकी सेक्स ड्राइव को बढ़ाने में मदद करती है।

अनियंत्रित होने पर यह अस्वस्थ हो जाता है।

हस्तमैथुन की लत से व्यवहार में बदलाव, कम आत्मसम्मान, कम यौन संतुष्टि हो सकती है और यह आपके दैनिक जीवन में हस्तक्षेप करना शुरू कर देता है।

ऐसे में इस समस्या को दूर करने के लिए प्रोफेशनल की मदद लें।

बहुत से लोग शादी के बाद भी हस्तमैथुन करते हैंऐसा जरूरी नहीं है कि आप शादी के बाद मास्टरबेशन नहीं कर सकते।

हस्तमैथुन आपका समय है जिसे आप खुद बिताना चाहेंगे।

शादी के बाद आपकी पार्टनर भी कभी कभी हस्थमैथुन कर सकती है।

हालांकि, अगर आपको लगता है कि आप यह बहुत ज्यादा कर रहे हैं तो आपको इसे कम कर देना चाहिए।

साथ ही अगर आप खुद को रोक नहीं पा रहे हैं तो आपको किसी विशेषज्ञ से जरूर बात करनी चाहिए।

इससे आपको फायदा पहुंच सकता है।

अंधापन, बांझपन, कामेच्छा में कमी का कारण नहीं बन सकता हस्तमैथुन हम जानते हैं कि ये सभी बेतुके विचार हैं, लेकिन कई लोग हैं जो इन पर विश्वास करते हैं।

वे डर पैदा करने वाली बातचीत की तरह लगते हैं जो लोगों को हस्तमैथुन से दूर रखने के लिए फैलाई गई थी।

इनमें से कोई भी सत्य नहीं है।

हस्तमैथुन करना पूरी तरह से सुरक्षित है और वास्तव में इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं।

दिन में एक बार हस्तमैथुन करना सामान्य है हां, यह है! ऐसे कई लोग हैं जो ऐसे लोगों को नशेड़ी के रूप में टैग करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं है।

चिकित्सकीय रूप से अगर आप इससे ज्यादा यानी दिन में 2 बार या हफ्ते में सात बार से ज्यादा हस्तमैथुन करते हैं तो यह समस्या हो सकती है।

इसके अलावा, अन्य लक्षण भी हैं जिनके खिलाफ भी जांच की जानी चाहिए।

जैसे अगर हस्तमैथुन के कारण आप अपनी पार्टनर के साथ सेक्स नहीं करते या आप अपनों से दूर हो रहे हों, तो यह गलत हो सकता है।

हस्तमैथुन के बाद बहुत से लोग रोते हैं हां, यह सच है।

हस्तमैथुन करने के बाद रोना अब एक आम समस्या है।

चिकित्सकीय रूप से इसे पोस्ट-कोइटल ब्लूज़ के रूप में जाना जाता है, इस विषय में और अधिक शोध किए जाने की आवश्यकता है।

इसे साहित्य में सेक्स-प्रेरित अवसाद के रूप में भी जाना जाता है।

Share few words about this News